इन बैंकों में है खाता, तो अब खर्च करने होंगे ज्यादा पैसे…

0
108

बैंक से लोन लेने वालों को बड़ा झटका लगा है. अगर आपने भी किसी बैंक से लोन ले रखा है तो अब से आपको ज्यादा ईएमआई चुकानी होगी. सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank Of Baroda) और इंडियन ओवरसीज बैंक ने एमसीएलआर की दरों में इजाफा कर दिया है. वहीं, स्टेट बैंक ने भी कर्ज के साथ जमा पर ब्याज दरों में इजाफा कर दिया है.

आरबीआई ने बढ़ाए थे रेपो रेट्स

भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank Of India) ने हाल ही में रेपो रेट्स में इजाफा कर दिया है. आरबीआई ने 8 फरवरी को मौद्रिक नीति समीक्षा में नीतिगत दर रेपो में 0.25 फीसदी का इजाफा कर दिया है, जिसके बाद से ग्राहकों के लोन की ईएमआई में भी इजाफा हो गया है.

 

बैंक ऑफ बड़ौदा ने बढ़ाई ब्याज दरें

बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of baroda) ने सभी अवधि की एमसीएलआर 0.05 फीसदी बढ़ा दी हैं. बता दें बैंक की नई दरें 12 फरवरी से प्रभावी हैं. बैंक की वेबसाइट पर उपलब्ध सूचना के मुताबिक, एक साल के लिये एमसीएलआर 8.5 फीसदी से बढ़ाकर 8.55 फीसदी कर दी गयी है. इसके अलावा एक दिन, एक महीने और तीन महीने की अवधि के लिये एमसीएलआर क्रमश: 7.9 फीसदी, 8.2 फीसदी और 8.3 फीसदी होगीएसबीआई ने भी किया इजाफा

Bank MCLR Rates: इस बीच, भारतीय स्टेट बैंक ने एमसीएलआर की ब्याज दर 0.10 फीसदी बढ़ा दी हैं. इसके तहत एक दिन और तीन साल की अवधि के कर्ज पर एमसीएलआर आधारित ब्याज 7.95 फीसदी से 8.70 फीसदी तक होगी. नई दरें 15 फरवरी से प्रभावी हैं. देश के सबसे बड़े बैंक ने जमा दरों में भी 0.05 फीसदी से 0.25 फीसदी का इजाफा कर दिया है. संशोधित दर के तहत वरिष्ठ नागरिकों को अब पांच साल से अधिक की जमा पर 8.5 फीसदी ब्याज मिलेगा. वहीं, अन्य को तीन साल की जमा पर 0.05 फीसदी अधिक ब्याज मिलेगा. जबकि लंबी अवधि की जमा पर ब्याज अब 0.25 फीसदी ज्यादा होगा.