गणेश प्रतिमा विसर्जन में महिलाओं-बच्चों को लाठी-डंडे से पीटा….12 से ज्यादा घायल

0
53

बिलासपुर: जानकारी के मुताबिक, आयोजकों ने कुछ लोगों को डीजे पर नाचने से मना किया था, जिसके बाद भीड़ ने जमकर उत्पात मचाया। पुलिस अब हमलावरों पर बलवा और हत्या के प्रयास का केस दर्ज कर तलाश कर रही है।

डीजे की धुन पर नाचते हुए विवाद

सब्जी व्यापारी सुरेश मौर्य ने शुक्रवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। इसमें बताया कि, बाल गणेशोत्सव समिति ने ग्राम ढेका में गणेश प्रतिमा स्थापित की थी। आयोजकों के साथ वह शाम को प्रतिमा विसर्जन के लिए निकला था। सभी डीजे की धुन पर नाचते हुए जा रहे थे। इसमें महिलाएं भी शामिल थीं।

युवक और बच्चों पर बरसाई लाठियां

इस दौरान दोमुहानी और दर्रीघाट के कुछ युवक आए। डीजे में डांस करते हुए पैर से मारने लगे। मना करने पर चले गए, पर कुछ देर बाद कार में सवार होकर 10-15 लड़के पहुंचे। आते ही उन्होंने गालियां देते हुए लाठी-डंडे से हमला कर दिया। मारपीट में करीब दर्जन भर युवक और बच्चे घायल हो गए।

घायलों के साथ थाने पहुंचे आयोजकों ने जमकर मचाया हंगामा, आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग।
घायलों के साथ थाना पहुंचकर भीड़ ने मचाया हंगामा
घायल युवकों के साथ आयोजक और महिलाओं की भीड़ थाने पहुंच गई। उन्होंने केस दर्ज कर हमलावरों को गिरफ्तार करने की मांग करते हुए थाने में हंगामा कर दिया। पुलिस ने समझाकर घायलों को अस्पताल भेजा। हमलावरों को गिरफ्तार करने का भरोसा दिलाया, तब जाकर मामला शांत हुआ।

हमले में दर्जन भर लोग घायल
आयोजकों ने पुलिस को बताया कि बदमाश युवकों ने डंडे और रॉड से बच्चे और बुजुर्गों की भी बेरहमी से पिटाई की, जिससे ढेका में रहने वाले विष्णु, सुरेश मौर्य, अमर, संजीव, अनिल बघेल, विशेष, नान्हू, राहुल, सौरभ, नीरज, नमन, अभीषेक, विशाल और हरी मौर्य समेत अन्य युवक घायल हो गए।

बदमाशों ने पुजारी पर भी कर दिया हमला।
हमले का सीसीटीवी फुटेज आया सामने
समिति के पदाधिकारियों ने पुलिस को एक सीसीटीवी फुटेज भी दिया है, जिसमें बदमाश घर में घुसकर लाठी-डंडे से हमला करते दिख रहे हैं। दौड़ा-दौड़ाकर आयोजकों के साथ मारपीट करने नजर आ रहे हैं। वीडियो के माध्यम से पुलिस अब हमलावरों की पहचान करने का प्रयास कर रही है।

हमलावरों के खिलाफ बलवा व हत्या के प्रयास का केस दर्ज कर पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।
पुलिस ने दर्ज किया है बलवा और हत्या के प्रयास का केस
तोरवा टीआई कमला पुसाम ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की पहचान की जा रही है। हमलावरों की गिरफ्तारी करने पुलिस ने दबिश भी दी है, लेकिन सभी फरार हैं। जल्द उनकी गिरफ्तारी की जाएगी।