बड़ा सड़क हादसा, 40 सवारी भरकर जा रही मेटाडोर पलटी, दो की हुई मौत…

0
79

CG News कांकेर के कोदाभाट से छट्ठी व नामकरण कार्यक्रम में शामिल होने अंतागढ़ नयापारा जा रहे लोगों की मेटाडोर अंतागढ़ के पास रविवार शाम दुर्घटनाग्रस्त हाे गई। मेटाडोर में 40 से अधिक लोग सवार थे। दुर्घटना में सवार दो महिलाओं की मौत हो गई, जबकि 36 लोग घायल हो गए, जिसमें बच्चे भी शामिल हैं। सभी घायलों को तत्काल इलाज के लिए अंतागढ़ अस्पताल लाया गया। जहां से गंभीर घायलों को प्राथमिक उपचार देकर अलग-अलग वाहनों में कांकेर रेफर किया गया। दो घायलों की स्थिति चिंताजनक बनी हुई है।

 

अंतागढ़ के नयापारा निवासी गीतेश यादव के बच्चे का रविवार शाम को छट्ठी व नामकरण कार्यक्रम रखा गया था। इसमें शामिल होने उसके ससुराल कोदाभाट कांकेर से रिश्तेदार व परिचित एक मेटाडोर में सवार होकर निकले थे। भानुप्रतापपुर अंतागढ़ के बीच पोडगांव के निकट शाम 4 बजे मेटाडोर का चालक ने वाहन से नियंत्रण खो दिया और वह पलट गई।

 

हादसे की खबर लगते ही निकट स्थित बीएसएफ कैंप, पुलिस व अन्य लोग मदद के लिए मौके पर पहुंचे और घायलों काे उठा-उठा कर अंतागढ़ अस्पताल रवाना किया। इसमें गंभीर रूप से घायल महिला मनीषा तारम 22 साल की अस्पताल पहुंचने के बाद मौत हो गई। महिला कांकेर कोदाभाट अपने मायके आई हुई थी। जिसे उसकी मां ने अंतागढ़ कार्यक्रम में शामिल होने ले आई। महिला का एक छोटा बच्चा भी है, जो सुरक्षित है। कोदाभाट की सुमन मंडावी (61) की भी अंतागढ़ अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई।

 

उक्त दो मृतकों के अलावा शाम 7 बजे तक 36 घायलों को इलाज के अंतागढ़ अस्पताल लाया जा चुका था। जिसमें 30 महिलाओं के अलावा 4 बच्चे व 2 पुरुष शामिल हैं। सभी को हाथ पैर व अन्य हिस्सों में गंभीर चोट आई हैं। प्राथमिक उपचार देने के बाद घायलों को कांकेर भेजने का क्रम देर रात तक चलता रहा। इधर, सूचना मिलते ही एएसपी खोमन सिन्हा व एडिशनल कलेक्टर चंद्रकांत वर्मा भी मरीजों को देखने अस्पताल पहुंचे।

 

Also Read Petrol Price Today: पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत से राहत, चेक करें ताजा रेट्स…

 

ओवर स्पीड और मालवाहक हादसे का कारण
CG News हादसे का असली कारण चालक का शराब के नशा में धुत्त होने के साथ साथ उसकी खतरनाक ओवर स्पीड तथा माल वाहन में यात्रियों का सवार होना था। पोडगांव के निकट चालक ने विपरीत दिशा से गिट्टी लेकर जा रही ट्रक को साईड देने लगा। इसी दौरान वाहन में नियंत्रण नहीं होने के कारण कंडेक्टर साइड का चक्का सड़क से उतर गया। सड़क किनारे शोल्डर में करीब 1 फीट का गड्ढा था जिससे पूरी वाहन एक तरफ झुक गई। माल वाहन होने के कारण सभी यात्री भी उसी ओर झुक गए जिससे मेटाडोर पलट गई। तीन बार पलटी खाने के बाद चौथी बार में मेटाडोर खड़ी हो गई।