: हरेली छत्तीसगढ़ी समृद्धि का उत्सव, छत्तीसगढ़ी संस्कृति का गौरव बढ़ाने कर रहे काम: मुख्यमंत्री श्री बघेल

0
39

 

 

नवागांव में हरेली के अवसर पर रीपा, दर्री तरिया सौंदर्यीकरण तथा सामुदायिक भवन निर्माण की घोषणा भी की

अच्छी बारिश से अच्छी फसल की उम्मीद, इस बार किसानों से खरीदेंगे प्रति एकड़ 20 क्विंटल धान

रायपुर 17 जुलाई, 2023

 

हरेली छत्तीसगढ़ी समृद्धि का उत्सव है। आज से तीन साल पहले इसी दिन से हमने गोधन न्याय योजना की शुरूआत की थी। खेती किसानी से जुड़ी हमारी योजनाओं से प्रदेश में समृद्धि आई है और पूरे प्रदेश में लोग बहुत उल्लास के साथ हरेली पर्व मना रहे हैं। यह बात मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने रायपुर जिले के नवागांव में आयोजित हरेली के कार्यक्रम में कही। इस मौके पर उन्होंने नवागांव में रीपा की स्वीकृति, सामुदायिक भवन के लिए 20 लाख रुपए और दर्री तरिया सौंदर्यीकरण के लिए 25 लाख रुपए की सहायता देने की घोषणा भी की। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार बारिश अच्छी हुई है। अब रोपा लगना आरंभ हो जाएगा। इस बार अच्छी फसल होने की उम्मीद है। हम 20 क्विंटल प्रति एकड़ किसानों का धान खरीदेंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में भी हमने किसी को नुकसान नहीं होने दिया है। संकट की घड़ी में सबको राशन भिजवाया। किसान और व्यापारी सब संतुष्ट रहे।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज छत्तीसगढ़ में किसानों के पास कर्ज की चिंता नहीं है। गोधन न्याय जैसी योजनाओं से लोगों की आय बढ़ी है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में हम सबको इलाज की सुविधा मिल रही है। बच्चों को पढ़ाने के लिए 10 इंग्लिश मीडियम कॉलेज आरंभ किये हैं। आज हमारी बोली-भाषा और संस्कृति को लेकर हमारा गौरव बढ़ा है। जो लोग बासी खाने में शर्माते थे वे आज फोटो खींच कर भेजते हैं और कहते हैं कि आई एम आल्सो इटिंग बोरे बासी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि लोक आस्था के केंद्रों का हम संरक्षण-संवर्धन कर रहे हैं। राजिम मेले में हमने बुनियादी सुविधाएं विकसित की हैं। राष्ट्रीय रामायण महोत्सव और राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव के आयोजन के माध्यम से संस्कृति के संवर्धन का काम किया है। हर ब्लाक में हम मॉडल जैतखंभ बनेंगे। इसकी डिजाइन भी चयनित हो गई है। हमारे पुरखों ने शांति का जो संदेश दिया है उससे छत्तीसगढ़ शांति का टापू बना है इसीलिए कहा जाता है छत्तीसगढ़िया सबले बढ़िया।

इस मौके पर नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने अपने संबोधन में कहा कि मुख्यमंत्री जो वादा करते हैं उसे पूरा करते हैं। छत्तीसगढ़ और छत्तीसगढ़िया को आगे बढ़ाने का काम उन्होंने किया है। स्थानीय त्योहारों को लोग उमंग से मना सकें, इसके लिए अवकाश दिया गया है। विधायक श्री धनेंद्र साहू ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में सांस्कृतिक परंपराओं के संरक्षण के लिए बड़ा काम किया है। आज तक ऐसा कोई मुख्यमंत्री नहीं आया, जिसने किसानों के लिए इतना काम किया हो।

 

युवाओं से किया संवाद- इस मौके पर मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़िया ओलंपिक के थीम वीडियो को रिलीज किया, साथ ही युवाओं से संवाद भी किया। मुख्यमंत्री ने राजीव युवा मितान क्लब के सदस्यों को कहा कि आप सभी सांस्कृतिक कार्यक्रम करें, साथ ही शासकीय योजनाओं का प्रचार प्रसार भी करें ताकि अधिकतम लोगों तक इसकी जागरूकता हो और वे इसका लाभ ले सकें। चर्चा के दौरान एक युवा चौतन्य तारक ने कहा कि छत्तीसगढ़ी ओलंपिक खेलों से उन्हें परंपरागत खेलों के बारे में जानकारी मिली। वे सांखली नहीं जानते थे। इसके बारे में जानकर अच्छा लगा। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर यूट्यूबर निपुण वर्मा को कैमरा माइक के लिए दो लाख रुपए की राशि प्रदान की। मुख्यमंत्री से आशाओं की किरण संस्था के सदस्यों ने भी चर्चा की। आशाओं की किरण संस्था लाइब्रेरी चलाती है। गरीब बच्चों को पढ़ाने का काम करती है। हसदा गांव में इनकी लाइब्रेरी है। मुख्यमंत्री ने इन्हें सहयोग करने कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिये।

हितग्राहियों को भेंट की सौगात- इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने रीपा केंद्र में सेवागुड़ी एप्लीकेशन का उद्घाटन किया। रीपा के कैटलाग का विमोचन भी किया। साथ ही उन्होंने प्लेसमेंट कैंप के माध्यम से चयनित 10 लोगों को सांकेतिक जाब आफर लेटर दिया।  मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के हितग्राहियों को मार्जिन मनी अनुदान सौंपा। साथ ही मुख्यमंत्री ने कृषि विभाग के स्टाल में हितग्राहियों को किट वितरण और महिला एवं बाल विकास विभाग के स्टाल में सुपोषण टोकरी का वितरण किया। साथ ही स्कूली बच्चों को भी किया यूनिफार्म का वितरण किया।

क्रमांक-1972/सौरभ/कमलेश/विष्णु