24 चौके,1 छक्का…राहुल तेवतिया ने रणजी ट्रॉफी में जड़ा शतक,गेंदबाजी में भी मचाया धमाल

0
41

नई दिल्ली: आईपीएल में अपनी उपयोगिता साबित कर चुके स्टार ऑलराउंडर राहुल तेवतिया इन दिनों रणजी ट्रॉफी में धमाल मचाए हुए हैं. तेवतिया को मैन फिनिशर के रूप में जाना जाता है. आईपीएल में उन्होंने कई बार इस चीज को साबित भी किया है रणजी ट्रॉफी 2024 में एलीट ग्रुप ए में हरियाणा और झारखंड का मैच चल रहा है। युवा खिलाड़ी तो लगातार रणजी में अपने आप को साबित कर ही रहे हैं। वहीं अनुभवी खिलाड़ी भी अपने नाम का डंका बजाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे। इसके सबसे नए उदाहरण बन गए हैं हरियाणा के हरफनमौला खिलाड़ी राहुल तिवतिया।उन्होंने अपनी इस बेहतरीन पारी में 24 चौके और एक छक्का लगाया.

राहुल तेवतिया को ‘तिवतिया द फिनिशर’ के नाम से जाना जाता है। राहुल ने आईपीएल में गुजरात टाइटंस और राजस्थान रॉयल्स को अंत में आकर चौकों-छक्कों की बारिश कर कई मैच जिताए हैं। वह वाइट बॉल क्रिकेट के गजब बल्लेबाज हैं, यह हमें आईपीएल में देखने को मिला। लेकिन रेड बॉल क्रिकेट में भी तिवतिया का बल्ला जमकर बोलता है।आईपीएल में उन्होंने कई बार इस चीज को साबित भी किया है

राहुल तेवतिया ने रणजी ट्रॉफी में जड़ा शतक

राहुल तेवतिया (Rahul Tewatia) ने 212 गेंदों पर 144 रन बनाए. हरियाणा (Harayana vs Jharkhand) ने 271 रन के स्कोर पर अपने 6 विकेट गंवा दिए थे.  उन्होंने इस दौरान 24 चौके और 1 छक्का भी जड़ा। तेवतिया ने बताया कि वह अंधाधुन बल्ला चलाने में विश्वास नहीं रखते बल्कि वह सिंगल-डबल लेकर गेम भी चला सकते हैं। 30 साल के राहुल तेवतिया को आईपीएल का अच्छा अनुभव है। उन्होंने अब तक आईपीएल में खेले गए 82 मैचों में 825 रन बनाए हैं और 32 विकेट भी झटके हैं इसके बाद राहुल तेवतिया ने सुमित कुमार के साथ मोर्चा संभाला. दोनों बल्लेबाजों ने बेहतरीन साझेदारी निभाई. राहुल और सुमित ने सातवें विकेट के लिए 225 रन जोड़े. सुमित ने 156 गेंदों पर 8 चौके और एक छक्का लगाया. इससे पहले ओपनर अंकित कुमार 109 रन बनाकर आउट हुए. हरियाणा के पहाड़नुमा स्कोर के सामने झारखंड की टीम पहली पारी में 119 रन पर 9 विकेट गंवा चुकी है. हरियाणा को पहली पारी में बड़ी लीड मिल सकती है.

 गेंदबाजी में भी मचाया धमाल
राहुल तेवतिया ने बल्लेबाजी के बाद गेंदबाजी में भी कमाल किया. उन्होंने अपने पहले ओवर की 2 गेंदों पर एक विकेट चटकाया. राहुल के अलावा स्पिनर जयंत यादव ने 4 जबकि सुमित कुमार ने 3 विकेट लिए. झारखंड के 4 बल्लेबाज ही दहाई का आंकड़ा छू सके. कप्तान विराट सिंह 16 रन बनाकर पवेलियन लौट गए.