Raigarh news: निर्वाचन के लिए मिले दायित्वों का जिम्मेदारी पूर्वक करें निर्वहन-कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा

0
74

 

 

*निर्वाचन में नोडल अधिकारियों को दिए गए कार्यों की पूर्णता के संबंध में ली जानकारी*

 

*पेंडिंग फॉर्म के प्रोसेस पर करें फोकस*

 

*आगामी विधानसभा निर्वाचन के संबंध में कलेक्टर श्री सिन्हा ने ली नोडल अधिकारियों की बैठक*

 

रायगढ़, 2 सितम्बर2023/ कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा ने आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आगामी निर्वाचन की तैयारियों के संबंध में जानकारी लेने नोडल अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में श्री सिन्हा ने कहा कि आगामी निर्वाचन में समय कम है अत: सभी नोडल अधिकारी सौंपे गये दायित्वों को पूरी जिम्मेदारी के साथ पूर्ण करें। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सदानंद कुमार, सीईओ जिला पंचायत श्री जितेन्दर यादव उपस्थित रहे।

इस दौरान उन्होंने सामान्य शाखा, कर्मचारियों की व्यवस्था, यातायात व्यवस्था, निर्वाचन कर्तव्य मत पत्र (डाक मत पत्र), प्रशिक्षण, कम्युनिकेशन प्लान, प्रवेश पत्र निर्वाचन प्रपत्र एवं सामग्री, सामग्री क्रय एवं निविदा, चिकित्सा दल एवं किट की व्यवस्था, शिकायत शाखा, निर्वाचन व्यय लेखा, मानदेय, कानून एवं सुरक्षा व्यवस्था, मतपत्र मुद्रण एवं प्रपत्र/सामग्री रिटर्निंग ऑफिसरों को प्रदाय, कंप्यूटरीकरण एवं वेब कास्टिंग, स्वीप कार्यक्रम, मीडिया प्रमाणन अनुवीक्षण पेड न्यूज के संबंध में तैयारियों पर विस्तार पूर्वक नोडल अधिकारियों से जानकारी ली। उन्होंने कहां की सभी मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों को बैठक में ईवीएम, रूट जैसी सभी प्रकार की जानकारी उपलब्ध कराई जाए। वही चुनाव में कर्मचारी एक महत्वपूर्ण घटक होता है अत: इसके लिए सभी कार्य किए जाएं। उन्होंने कर्मचारियों की व्यवस्था एवं एंट्री करने के संबंध में निर्देश दिए। उन्होंने कर्मचारियों के कोड सहित नाम भेजने के निर्देश दिए। मतदान दल के संबंध में जानकारी लेते हुए सभी मतदान केन्द्रों में आवश्यक सुविधा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने मॉडल मतदान केंद्र, केवल महिलाएं एवं दिव्यांग द्वारा संचालित मतदान केन्द्रों में सभी जरूरी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर श्री सिन्हा ने कहा कि पोस्टर बैलट के संबंध में सहमति-असहमति पत्र भी लिया जाए। साथ ही ड्यूटी में लगे सभी कर्मचारियों को पोस्टर बैलेट की सुविधा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही परिवहन विभाग को वाहनों की व्यवस्था हेतु आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने सभी रिटर्निंग आफिसर को वाहनों की आवश्यकता की सूची भेजने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिन्हा ने कहा कि निर्वाचन में प्रशिक्षण महत्वपूर्ण है। उन्होंने सीईओ जिला पंचायत श्री यादव को सभी बीएलओ, सेक्टर अधिकारियों के लिए विशेष स्थान चयन कर ट्रेनिंग प्रदान एवं परीक्षा आयोजित करने हेतु कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने मास्टर ट्रेनर एवं पुलिस की ट्रेनिंग भी सुनिश्चित करने हेतु निर्देशित किया।

कलेक्टर श्री सिन्हा ने कहा कि जिन क्षेत्रों में नेटवर्क नहीं है, उन स्थानों को चिन्हांकित कर कम्युनिकेशन हेतु प्लान बनाये। इसके साथ ही प्रवेश पत्र मतदान केन्द्रों में प्रवेश हेतु प्रवेश पत्र निर्वाचन, सामग्री प्रदाय जैसे विभिन्न कार्यों के लिए रूपरेखा तैयार की जाए। उन्होंने मतदान दलों का मेडिकल चेकअप करवाने हेतु सीएमएचओ को निर्देशित किया। कलेक्टर श्री सिन्हा ने कहा की शिकायत शाखा का कार्य महत्वपूर्ण होता है, इसमें लापरवाही नहीं होनी चाहिए। उन्होंने निर्माण कार्य में संलग्न विभागों को कार्य के प्रारंभ, अप्रारंभ, प्रगतिरत कार्यों की सूची बनाकर भेजने हेतु निर्देशित किया। कलेक्टर सिन्हा ने कहा कि एसएसटी, एफएसटी, वीएसटी, वीवीटी की जानकारी लेते हुए। उक्त टीमों के लिए वाहन व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने मतदान केन्द्रों में खाद्य विभाग को रियायत दर पर भोजन व जलपान की व्यवस्था हेतु निर्देशित किया।

बैठक में आयुक्त नगर निगम श्री सुनील चंद्रवंशी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री संजय महादेवा, अपर कलेक्टर श्री राजीव पाण्डेय, संयुक्त कलेक्टर श्री डी.आर.रात्रे, एसडीएम श्री गगन शर्मा, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती रेखा चन्द्रा, डिप्टी कलेक्टर श्री रमेश मोर सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

*पेंडिंग फॉर्म के प्रोसेस पर करें फोकस*

कलेक्टर श्री सिन्हा ने बैठक के पश्चात कलेक्टर कक्ष में समस्त एसडीएम एवं तहसीलदारों की बैठक ली। बैठक में उन्होंने विशेष संक्षिप्त प्रशिक्षण कार्यक्रम अंतर्गत लैलूंगा, धरमजयगढ़, खरसिया एवं रायगढ़ विधानसभा सेप्राप्त फॉर्म 7, फार्म 8 एवं पेंडिंग फॉर्म की समीक्षा की। उन्होंने प्राप्त पेंडिंग फार्म के प्रोसेस पर फोकस करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने निर्देशित किया कि किसी भी महत्वपूर्ण व्यक्ति का नाम नहीं कटना चाहिए, इसका विशेष ध्यान रखें। साथ ही वेब कॉस्टिंग के संबंध में विशेष दिशा-निर्देश दिए।